what is financial literacy ?

ये जरूरी है कि हम अपनी financial planning करें | अगर हम अपनी फाइनेंसियल प्लानिंग करने में कामयाब होते हैं तो हमारी ज़िन्दगी की बहुत सारी टेंशन हम दूर कर सकते हैं | आज के समय में financial problems हमारी ज़िन्दगी का अहम् हिस्सा बन गयी हैं | हम अपनी ज़िन्दगी का 80 % समय सिर्फ पैसे कमाने में लगा देते हैं | इसलिए ये और भी  जरूरी  हो जाता है की हम अपनी ज़िन्दगी को खुशहाल बनाने के लिए अपनी financial planning करें |

हम सब चाहते हैं कि हमारे पास पैसे भी हों और समय भी | जब बच्चे थे तो समय था मगर पैसे नहीं थे | जब बड़े हुए तो पैसे हैं मगर समय नहीं है और जब बूढ़े हो जायेंगे तो पैसा भी होगा और समय भी मगर वो ज़िन्दगी न होगी जो समय और पैसे की चाहत पैसा करते हैं | कुछ रोमांचकारी करने के लिए तब बुढ़ापे में क्या बचेगा |

हम जैसे अधिकाँश लोगों का वर्किंग मॉडल है – 60 साल तक की उम्र तक काम करते रहो और उसके बाद रिटायरमेंट की ज़िन्दगी जिओ | हम सब शायद कभी अपनी ज़िन्दगी जी नहीं पाते | हमारी पूरी ज़िन्दगी कमाने में निकल जाती है |

इसलिए अगर आप चाहते हो कि आप अपनी ज़िन्दगी में जल्दी retirment ले पाएं तो उसके लिए आपको financial planning करनी होगी | हम अपनी फाइनेंसियल प्लानिंग तभी कर सकते हैं जब हमारे पास पर्सनल फाइनेंस की नॉलेज होगी | फाइनेंसियल लिटरेसी हमारे देश में ना के बराबर है| बहुत कम लोग अपने पर्सनल फाइनेंस को समझ पाते हैं और सही decisions ले पाते हैं |